Tuesday, 16 October 2012

ग्रामीण क्षेत्र में खेल प्रतिभाओं को निखारने की कवायद


पायका योजना के तहत जिले के 49 गांवों में दिए जाएंगे वालीबाल, बास्केटबाल, कुश्तीमैट व वैट ट्रेनिंनग सैट

नरेंद्र कुंडू 
जींद। केंद्र सरकार द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में छिपी खेल प्रतिभाओं को निखारने के लिए हर वर्ष करोड़ों रुपए खर्च किए जा रहे हैं। ग्रामीण क्षेत्र से अधिक से अधिक युवाओं को खेल के क्षेत्र में आगे लाने के लिए सरकार द्वारा पंचायत युवा क्रिया (पायका) योजना को धरातल पर उतारा गया है। पायका योजना के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्र के खिलाडिय़ों के लिए सरकार द्वारा हर वर्ष करोड़ों रुपए की खेल कीट मुहैया करवाई जा रही हैं। इस योजना के तहत सरकार द्वारा इस वर्ष जींद जिले के 49 गांवों के लिए खेल कीट मुहैया करवाई गई हैं। जबकि पिछले वर्ष इस योजना के तहत 51 गांवों को खेल कीट मुहैया करवाई गई थी। इन खेल कीटों में वॉलीबाल, बास्केटबाल के पोल सैट, कुश्ती मैट व वैट ट्रेनिंग सैट शामिल हैं।
भारत सरकार द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में छिपी खेल प्रतिभाओं को निखार कर ग्रामीण आंचल से अच्छे खिलाड़ी तैयार करने के उद्देश्य से पंचायत युवा क्रीड़ा (पायका) योजना शुरू की गई है। सरकार द्वारा इस योजना के तहत ग्रामीण क्षेत्रों में खेल प्रतिभाओं को बढ़ावा देने के लिए गांवों में खेल कीटें उपलब्ध करवाई जा रही हैं। केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई इस योजना का मुख्य उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्र से कोच की देखरेख में अच्छे खिलाडिय़ों की पहचान कर उन्हें आगे बढऩे के लिए प्रोत्साहित करना है। देश में खेल प्रतिभाओं को आगे बढ़ाने के लिए पायका योजना के माध्यम से हर वर्ष करोड़ों रुपए खर्च किए जा रहे हैं। इस बार पायका योजना के तहत जींद जिले से 49 गांवों का चयन कर इनके लिए खेलों का सामान उपलब्ध करवाया गया है। इसमें 34 गांवों को वालीबाल व बास्केटबाल के पोल सैट तथा 15 गांवों को कुश्ती के मैट दिए जाने हैं। इसके अलावा सभी 49 गांवों में वालीबाल, बास्केटबाल व कुश्ती मैट के अलावा वैट ट्रेनिंग सैट भी दिए जाएंगे। सभी गांवों में सामान मुहैया करवाने के लिए विभाग द्वारा जिला खेल कार्यालय में सामान भिजवाया जा चुका है।

इन गांवों को दिए जाएंगे वालीबाल व बास्केटबाल के पोल सैट 

अलेवा ब्लॉक से शामदो, जींद ब्लॉक से पिंडारा, रामगढ़, जलालपुर कलां, आसन, नरवाना ब्लॉक से कलोदा कलां, हथो, सिसर, सैंथली, ढाबी टैकसिंह, कोयल, सच्चाखेड़ा, रसीदां, जाजनवाला, हमीरगढ़, फुलनकलां, सुलेहड़ा, भिखेवाला, कर्मगढ़, पिल्लूखेड़ा ब्लॉक से पिल्लूखेड़ा, सफीदों ब्लॉक से पाजू कलां, रोड, बहादुरगढ़, ऐंचरा खुर्द, रामनगर, मिल्कपुर, निमनाबाद, सिंगपुरा, मलार, उचाना ब्लॉक में घसो कलां, टोहाना खेड़ा, खापरा, कसहुन, खेड़ी मसानिया शामिल हैं।

इन गांवों में दिए जाएंगे कुश्ती मैट 

अलेवा ब्लॉक से खांडा, डुराना, जींद ब्लॉक से पौंकरीखेड़ी, जुलानी, मनोहरपुर, लोहचब, जुलाना ब्लॉक से लजवाना खुर्द, शादीपुर, नरवाना ब्लॉक से खररवाल, पिल्लूखेड़ा ब्लॉक से रिटोली, रजाना, भड़ताना, धड़ोली, सफीदों ब्लॉक से रायताखेड़ा, बिटानी शामिल हैं।
इसके अलावा इन सभी 49 गांवों में वैट ट्रैङ्क्षनग सैट भी दिए जाएंगे।
 जिला खेल कार्यालय में रखे वालीबाल व बास्केटबाल मे पोल। 

अगले सप्ताह से शुरू किया जाएगा सामान का वितरण

विभाग द्वारा पायका योजना के तहत जिले के 49 गांवों के लिए खेलों का सामाना मुहैया करवाया गया है। इसमें 34 गांवों को बास्केटबाल, वालीबाल व 15 गांवों के कुश्ती ट्रेनिंग सैट दिए जाने हैं। इसके अलावा सभी 49 गांवों को वैट ट्रेनिंग सैट भी दिए जाएंगे। खेल के सामान का निरीक्षण करने के बाद सामान का वितरण किया जाएगा। अगले सप्ताह तक सामान का वितरण शुरू कर दिया जाएगा।
जुगमिंद्र श्योकंद
जिला खेल अधिकारी, जींद

No comments:

Post a Comment